बॉलीवुज के मशहूर सिंगर उदित नारायण  इंडिया टुडे सफाईगिरी अवार्ड 2019 में शामिल हुए। इस कार्यक्रम में उदित नायारण ने अपनी गायकी, इडस्ट्री में अपने सफर और पर्सनल लाइफ से जुड़ी कई चीजों के बारे में बात की।
उदित नारायणउदित नारायण
बॉलीवुज के मशहूर सिंगर उदित नारायण इंडिया टुडे सफाईगिरी अवार्ड 2019 में शामिल हुए। इस कार्यक्रम में उदित नायारण ने अपनी गायकी, इंडस्ट्री में अपने सफर और पर्सनल लाइफ से जुड़ी कई चीजों के बारे में बात की।इवेंट मे उदित नारायण ने कहा, 'मुझे बॉम्बे में 40 साल हो गए हैं। मुंबई में मैं 1978 में आया था। इसके बाद 1988 में फिल्म कयामत से कयामत तक आई। इस बीच 10 साल स्ट्रगल में चले गए और लोगों की दुआओं और आशीर्वाद से आपका उदित नारायण 40 साल के बाद भी सफाईगिरी के साथ लगा हुआ है।

'उदित नारायण से पूछा गया कि क्या आपको दूसरों की कोई गंदी आदत परेशान करती है? इस सवाल पर उदित नारायण ने कहा ये बड़ा मुश्किल काम है। मुझे लगता है कि अगर आप अच्छे हो तो हर चीज अच्छी है। लेकिन फिर भी तकलीफें आपको आती हैं। लेकिन अपने आप में प्योरिटी होनी चाहिए। इतना सुंदर मन रखो कि हजारों तकलीफें आएंगी और जाएंगी लेकिन ऊपर वाला आपको वहां ले जाएगा जहां आप जाना चाहते हैं।
बिहार की बाढ़ पर क्या बोले उदित नारायण?
बिहार में इस साल आई बाढ़ पर उदित नारायण ने दुख जताया। उन्होंने कहा- 'बिहार की हालत देख मुझे बहुत दुख होता है। बिहार की बाढ़ पर मुझे रोना आता है। कई रातें मुझे नींद नहीं आई। आदमी बड़ा हो या छोटा हो, इंसान जहां रहता है उनके दुख को समझना चाहिए।