नई दिल्ली: एनडीटीवी-डेटॉल की मुहिम 'बनेगा स्वस्थ इंडिया' के छठे संस्करण में केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने जानकारी दी है कि अगले दो महीनों में 400 बसें, 150 कार और 150 ट्रक बायो-सीएनजी पर चलने लगेंगी. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हम बायो कचरे और प्लास्टिक कचरे का इस्तेमाल मेथेन और एथेनॉल में बनाने में कर रहे हैं.

'बनेगा स्वस्थ इंडिया' कार्यक्रम के पैनल में शामिल नितिन गडकरी ने कहा कि  कहा, "महिलाओं और बच्‍चों की सेहत के प्रति जागरुकता फैलाने के लिए सरकार कई तरह के कार्यक्रम चला रही है लेकिन कई बार लागू करने के स्‍तर पर गैप आ जाता है. इस गैप को दूर करने के लिए हम इस प्रक्रिया का डिजिटलीकरण करने के बारे में सोच रहे हैं." उन्होंने ने कहा कि नितिन गडकरी ने कहा कि बॉयो प्लास्टिक सिंगल यूज प्लास्टिक का बढ़िया विकल्प बन रहा है.

जिसका इस्तेमाल स्ट्ऱॉ और घरेलू बर्तन के सामान में कर सकते हैं. वहीं पीने के पानी और स्वच्छता विभाग के सचिव परमेश्वरन अय्यर ने कहा कि स्वच्छ इंडिया के प्रति लोगों के जागरुक करने के लिए बहुत काम किए गए हैं लेकिन अभी बहुत कुछ करना बाकी है. उन्होंने कहा कि प्लास्टिक का इस्तेमाल बहुत ज्यादा बढ़ गया है और सिंगल यूज इस्तेमाल का तुरंत बंद करना होगा.