भारतीय कप्तान विराट कोहली ने मंगलवार को कहा कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की सीरीज के पहले टेस्ट में ऋषभ पंत की जगह ऋद्धिमान साहा लेंगे। कोहली ने कहा कि बंगाल के क्रिकेटर साहा ‘दुनिया के सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर’ बने हुए हैं।

साहा चोट के कारण लंबे समय तक टीम से बाहर रहे और अगस्त में वेस्टइंडीज दौरे पर दो टेस्ट की सीरीज के साथ स्क्वॉड में वापसी की थी। साउथ अफ्रीका के खिलाफ बुधवार से विशाखापत्तनम में पहला टेस्ट खेला जाएगा।

साहा को हालांकि वेस्टइंडीज के खिलाफ खेलने का मौका नहीं मिला और दोनों ही मैचों में पंत ने विकेटकीपर की भूमिका निभाई। कोहली ने पहले टेस्ट से पूर्व कहा, ‘हां, साहा फिट हैं और खेलने को तैयार हैं, वह हमारे लिए सीरीज की शुरुआत करेंगे। उनकी विकेटकीपिंग से सभी वाकिफ हैं। उन्हें जब भी मौका मिला, उन्होंने बल्ले से भी अच्छा प्रदर्शन किया। यह दुर्भाग्यपूर्ण था कि चोट के कारण वह बाहर रहे। मेरे अनुसार वह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर हैं। इन हालात में वह हमारे लिए सीरीज की शुरुआत कर सकते हैं।’
खराब शॉट चयन के कारण पंत हुए बाहर
साहा ने अपना पिछला टेस्ट जनवरी 2018 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था। उनकी गैरमौजूदगी में पंत ने जिम्मेदारी संभाली और इंग्लैंड तथा ऑस्ट्रेलिया में शतक के साथ खेल के लंबे प्रारूप में टीम की पहली पसंद बन गए।

पिछले कुछ समय में हालांकि पंत को खराब शॉट चयन के कारण आलोचनाओं का सामना करना पड़ा और शायद यह भी एक कारण है कि टीम प्रबंधन ने सीरीज की शुरुआत साहा के साथ करने का फैसला किया।34 साल के साहा ने आखिरी बार जनवरी 2018 में टेस्ट मैच खेला था। साहा ने 32 टेस्ट खेले हैं, जिसमें उन्होंने 30।63 की औसत से 1164 रन बनाए हैं।

उन्होंने टेस्ट करियर में विकेटकीपर के तौर पर अब तक 75 कैच लपके हैं और 10 स्टंप भी किए हैं। कप्तान कोहली ने यह भी पुष्टि की कि स्टार ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन विशाखापत्तनम में वापसी करेंगे। रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा के साथ हनुमा विहारी स्पिन के तीसरे विकल्प होंगे। उधर, चोटिल तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की जगह स्क्वॉड में रखे गए उमेश यादव को अंतिम-11 में जगह नहीं मिली है।
ऑफ स्पिनर अश्विन का मिला मौका
लगातार पांच टेस्ट से बाहर रहने के बाद 33 साल के अश्विन को खेलने का मौका मिलेगा। आखिरी बार वह ऑस्ट्रेलिया में बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के पहले मैच में खेले थे। दिसंबर में एडिलेड टेस्ट में कुल छह विकेट (3+3) लेने के बाद मैच की चौथी सुबह चोटिल हो गए। बाईं तरफ पेट में खिंचाव के वजह से वह इसके बाद पर्थ और मेलबर्न टेस्ट में भी नहीं खेल पाए। सिडनी में होने वाले अंतिम टेस्ट के लिए 13 खिलाड़ियों में भी उनका नाम रहा, पर उन्हें नहीं खिलाया गया। इसके बाद वेस्टइंडीज दौरे में भी वह दोनों टेस्ट से बाहर रहे।
पहला टेस्ट: टीम इंडिया प्लेइंग इलेवन
विराट कोहली (कप्तान), अजिंक्य रहाणे (उपकप्तान), रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, हनुमा विहारी, आर। अश्विन, रवींद्र जडेजा, ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), ईशांत शर्मा, मो। शमी।