देश की आर्थिक राजधानी मुंबई के अंधेरी रेलवे पुलिस स्टेशन पर तैनात एक जवान ने सोमवार को आत्महत्या कर ली. सब इंस्पेक्टर धानाजी सखाराम राउत ने आज सुबह खुदकुशी की. उन्होंने ये कदम क्यों उठाया फिलहाल इसकी जानकारी नहीं मिल पाई है.देश में ड्यूटी पर तैनात सुरक्षाकर्मियों और पुलिसकर्मियों की खुदकुशी की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं.

इसी महीने 10 सितंबर को दिल्ली के रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) परिसर में एक सुरक्षाकर्मी ने खुद को गोली मार ली थी. सिविल लाइंस इलाके के इस डीआरडीओ सेंटर में डिफेंस सर्विस कॉर्प के साथ तैनात सुरक्षाकर्मी 51 साल के हरजीत सिंह ने अपनी सर्विस राइफल से मंदिर में गोली मारी.अगस्त में दिल्ली के बवाना इलाके में सीआरपीएफ के एक अफसर की खुदकुशी का मामले सामने आया था.

पांच अगस्त की सुबह लगभग सवा सात बजे पुलिस स्टेशन नरेला पर सीआरपीएफ कंट्रोल रूम से फोन आता है जिसके बाद पुलिस को पता लगता है कि एएसआई राम गिलास मीणा के खुदकुशी कर ली. राम गिलास मीणा ने अपनी राइफल से खुद को गोली मारी थी.
कश्मीर में भी जवान ने की आत्महत्या
26 जुलाई को जम्मू-कश्मीर में भी सेना के जवान की आत्महत्या का मामला सामने आया था. कश्मीर के बांदीपोरा इलाके में 14 राष्ट्रीय राइफल्स के जवान पवन कुमार बांदीपोरा के चोंटीपोरा में तैनात था और उसने खुद को अपनी सर्विस राइफल से गोली मार ली थी.