IIT-JEE Advanced Result 2019: इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT), दिल्ली की ओर से आयोजित ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन एडवांस (JEE Advanced 2019) परीक्षा का आयोजन किया जाएगा.  परीक्षा की तारीख 17 मई  2020 है. देशभर की 23 IIT (इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी) में एडमिशन के लिए जेईई परीक्षा का आयोजन किया जाता है.

आपको बता दें, 15 सितंबर को आइआइटी जॉइंट एडमिशन बोर्ड (जीएबी) की मीटिंग हुई. जिसमें परीक्षा से जुड़े कई जरूरी फैसले लिए गए.  आपको बता दें, जेईई एडवांस परीक्षा पहली बार अमेरिका में आयोजित की जाएगी. जिसके लिए परीक्षा केंद्र अमेरिका के सेन फ्रेंसिसको में तैयार किए जाएगा.

IIT JAB की ओर से लिए गए निर्णयों के बारे में, IIT दिल्ली के निदेशक, प्रो वी रामगोपाल राव ने कहा, “JEE एडवांस्ड IIT में प्रवेश के लिए सभी IIT द्वारा आयोजित एक परीक्षा है। IIT ने अपने परिसरों में सांस्कृतिक विविधता को प्रोत्साहित करने के लिए एक जागरूक निर्णय लिया है.

जेईई परीक्षा अब दुनिया भर में पांच देशों में आयोजित की जाती है और हमने इस सूची में अमेरिका को भी जोड़ लिया है.वहीं जेईई एडवांस्ड परीक्षा कुछ बदलाव भी किए हैं. जिसमें जेईई एडवास्ड परीक्षा देने वाले उम्मीदवारों की परीक्षा में वृद्धि की गई है.

पहले जेईई मेन परीक्षा पास करने के बाद 2,40,000 उम्मीदवारों को जेईई एडवांस परीक्षा में उपस्थित होने के लिए योग्य माना गया था. वहीं अब इस संख्या में 10,000 की बढ़ोतरी की गई है, यानी अगले साल 2,50,000 छात्र (सभी श्रेणियों सहित)  जेईई (मेन) से जेईई एडवांस परीक्षा में शामिल होने के लिए शॉर्टलिस्ट किए जाएंगे.
कितने बजे होगी परीक्षा
-17 मई, 2020 को जेईई (एडवांस्ड) का पहला पेपर सुबह 9 बजे शुरू होगा और दोपहर 12 बजे समाप्त होगा.
- दूसरा पेपर दोपहर 2.30 बजे से आयोजित किया जाएगा.
परीक्षा ऑर्गेनाइजेशन चेयरमैन प्रोफेसर सिद्धार्थ पांडे ने बताया कि "पेपर 2 जो पहले 2 बजे शुरू होता था, अब 2:30 बजे शुरू होने वाला है. वहीं PwD उम्मीदवारों को 2 पेपर के बीच अधिक समय की अनुमति दी गई है.  2019 में, भारत के अलावा, JEE एडवांस्ड की परीक्षा अरब अमीरात (येएई),  ढाका (बांग्लादेश), काठमांडू (नेपाल) सिंगापुर और कोलंबिया (श्रीलंका) में आयोजित की जाती है.

वहीं इस साल IIT ज्वाइंट एडमिशन कार्ड ने दो देशों  (इथियोपिया) और कोलंबो (श्रीलंका) में परीक्षा केंद्रों को बंद करने का निर्णय लिया है.

क्योंकि यहां परीक्षा देने वाले उम्मीदवारों की कमी थी. बता दें, पिछले दो साल से जेईई एडवांस्ड परीक्षा का आयोजन नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) की ओर से किया जाए रहा है.बता दें, इस साल पेपर 1 और पेपर 2 में 161,319 उम्मीदवारों ने जेईई एडवांस्ड की परीक्षा दी थी. 38,705 परीक्षार्थियों ने परीक्षा पास की थी. जिसमें लड़कियों की संख्या 5,356 थी.