मुंबई: मुन्ना भाई एमबीबीएस फिल्म का एक दृश्य बहुत प्रसिद्ध हुआ था जिसमें अभिनेता संजय दत्त परीक्षा हॉल में बैठकर ब्लूटूथ की मदद से नकल करते हैं और एक वरिष्ठ डॉक्टर उन्हें सभी सवालों के उत्तर बता रहा होता है. यह तो फिल्मी सीन था लेकिन महाराष्ट्र में ऐसा रियल लाइफ में भी देखने को मिला है. मुन्नाभाई स्टाइल में नकल करने वाले 11 छात्रों को मुंबई पुलिस ने पकड़ा है और उनके पास से 11 माइक्रोफोन और ब्लूटूथ हेडसेट बरामद किए हैं.पुलिस ने कहा कि सभी छात्र एक दूसरे से जुड़े हुए थे और उन्हें संदेह है कि कोई उन्हें कॉलेज के बाहर से सवालों के जवाब लिखने में मदद कर रहा था.नकल कर रहे इन छात्रों की पहचान प्रदीप

ओमप्रकाश (26), राजू रामनिवास (20), अमन हरिकेश (23), दिनेश दलबीर (25), मोहित बिजेंद्र (20), कुशकुमार पुलकुमार (24), नवीन सुभाष चंद्र (19), सुमीत कुलदीप (21), राकेश ओमप्रकाश (23), सौरभ सुभाष (21) और नवीन सिंह (23) के रूप में हुई है. सभी आरोपियों को बुधवार को अदालत में पेश किया गया और उन्हें 2 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया.राज्य कर्मचारी चयन परीक्षा 6 जुलाई को पवई के ऑनलाइन परीक्षा केंद्र में ओरेम आईटी पार्क में आयोजित की गई थी. इस कॉलेज में लगभग 1870 छात्र परीक्षा में शामिल हुए. परीक्षा बोर्ड के एक पर्यवेक्षक केतन मोहन चव्हाण (29) को संदेह हुआ जिसके बाद उन्होंने मेटल डिटेक्टर से 250 छात्रों की जांच की.जांच में 11 छात्रों से उन्हें ब्लूटूथ मिनीमाइक्रोफोन और हेडसेट्स मिले. पर्यवेक्षक ने तुरंत पवई पुलिस को सूचित किया और मामला दर्ज कराया. जिसके बाद सभी छात्रों को गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस ने कहा कि सभी छात्र जिंद और हिसार जिले के निवासी हैं और वे कर्मचारी चयन परीक्षा में शामिल होने के लिए मुंबई पहुंचे थे.पुलिस ने कहा कि आरोपियों ने माइक्रोफोन को अपनी शर्ट के रंग में छुपाने की कोशिश की और ब्लूटूथ डिवाइस को उन्होंने कान में फिट किया था ताकि लंबे बालों में वो दिखाई न दे. सभी ने योजना बनाकर परीक्षा में नकल की. पुलिस को शक है कि कुछ प्रोफेसर भी इस अपराध में शामिल हैं. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है.