नई दिल्ली: जिस पुलिस पर आपके जान और इज्जत की रक्षा का भार होता है अगर वो ही उसे तार-तार कर दे तो उसे क्या कहेंगे आप। लेकिन ऐसा ही हुआ है, दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद एक महिला कैदी ने एक पुलिसवाले पर बलात्कार का आरोप लगाया है। आरोप लगाने वाली कैदी महिला के अनुसार 3-4 अगस्त को वो पश्चिम बंगाल में अपनी पेशी के बाद ट्रेन से वापस लौट रही थी। जहां ट्रेन की टॉयलेट में दिल्ली पुलिस के एक जवान ने उसके साथ रेप किया। महिला कैदी ने बताया कि जब वो बाथरूम में गई, तभी पीछे से वो पुलिसवाला भी घुस गया और जान से मारने की धमकी देकर उसके साथ रेप किया।जिसके बाद महिला कैदी ने दिल्ली पहुंचने पर तिहाड़ जेल के अधिकारियों से इसकी शिकायत की।शिकायत मिलने पर मामले को दिल्ली पुलिस को रेफर कर दिया गया है। जहां महिला कैदी का डीडीयू अस्पताल में मेडिकल कराया गया और डॉक्टरों ने कुछ सैंपल जांच के लिए भेज दिए हैं। आरोप लगानेवाली महिला कैदी के खिलाफ दिल्ली में एक और पश्चिम बंगाल में दो मामले दर्ज हैं।

पश्चिम बंगाल के एक मामले के सिलसिले में उसे 1 अगस्त को वहां के कोर्ट में पेश होना था। इसके लिए दिल्ली से डीएपी की दो महिला और एक पुरुष पुलिसकर्मी उसे ट्रेन से वेस्ट बंगाल गए। जिसके बाद 3-4 अगस्त को वापसी के दौरान देर रात को जब सब ट्रेन में सोए हुए थे। तो उसने महिला पुलिसकर्मी से टॉयलेट जाने के लिए बोला। जिसके बाद उसे दोनों महिला पुलिसकर्मी टॉयलेट लेकर गईं। महिला कैदी के मुताबिक जब टॉयलेट के बाहर दोनों महिला पुलिसकर्मियों पहरा दे रही थी। तभी पुरुष पुलिसकर्मी वहां आया और उसने उन दोनों को यह कहकर ट्रेन के अंदर जाने के लिए बोल दिया कि वह यहां खड़ा है। जिसके बाद वो जबरदस्ती अंदर घुसा और उसके साथ रेप किया। वहीं इस पूरे मामले को लेकर रेल पुलिस के डीसीपी दिनेश कुमार गुप्ता ने कहा, महिला की शिकायत पर हमने केस दर्ज कर लिया है और मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है, जिसके बाद मामले की आगे जांच की जाएगी।