लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नया चुनावी नारा दिया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कहीं सैफई, कहीं लखनऊ, अपना घर आबाद किया और गरीबों का हक लेकर, उनको ही बर्बाद किया। 74 के पार हो गया उत्तर प्रदेश फिर अबकी बार। आ रही है फिर से बंधु, अपनी ही मोदी सरकार। एक अन्य ट्वीट में विपक्ष पर निशाना साधकर उन्होंने कहा कि आज न्याय की बात करने वालों को पहले याद क्यों नहीं आई थी। अब लोकतंत्र के महाकुंभ में जनता ने ललकारा है

, उनके कंठ से यही निकलता कि मोदी ही सहारा है। इससे पहले सीएम ने समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए कहा कि चेतना को नया आयाम देने वाले महापुरुषों के स्मारकों को अखिलेश ने ध्वस्त करने की बात कही थी। आज जब उनके खुद के अस्तित्व पर खतरा मंडराने लगा, तो बुआ के पाले में बैठकर अपने अस्तित्व को बचाने में लगे हैं। समाज इस सबको देख रहा है, जिसे स्वीकार नहीं किया जाएगा।