नई दिल्ली- जीएसटी पर हो रही जीएसटी काउंसिल की अहम बैठक खत्म हो गई है। आज की बैठक में जीएसटी पर बड़ी राहत दी गई है। आज की बैठक में आम आदमी को राहत देने के लिए रोज इस्तेमाल होने वाली चीजों पर दरें घटाई गई हैं। 26 आइटम को 18 फीसदी स्लैब से हटाकर 12 फीसदी स्लैब में लाया गया है जबकि 7 आइटम को 28 फीसदी स्लैब से 18 फीसदी स्लैब में लाया गया गया। कुल 33 आइटम पर जीएसटी घटाया गया है। कांग्रेस नेता वी. नारायणसामी ने यह जानकारी दी। वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में शनिवार को जीएसटी परिषद की 31वीं बैठक हुई।
जीएसटी काउंसिल की बैठक के बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। जेटली ने कहा कि बैठक में रेवेन्यू और रेट घटाने पर चर्चा हुई। जेटली ने कहा, कई राज्यों ने रेवेन्यू के लिहाज से बेहतर प्रदर्शन किया, कुछ राज्यों के रेवेन्यू में सुधार नहीं। सूत्र बताते हैं कि सीमेंट की कालाबाजारी से सरकार को करीब 7 हजार करोड़ रुपए के राजस्व का नुकसान होगा। वित्त मंत्री अरुण जेटली के नेतृत्व में होने वाली इस बैठक में सीमेंट के अलावा विभिन्न इलेक्ट्रॉनिक सामान पर लगने वाली दर को कम किया जा सकता है। याद रहे कि परिषद् में सहमति होने पर ही दरों को कम करने पर निर्णय लिया जा सकता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 18 दिसंबर को संकेत दिया था कि 99 फीसदी वस्तुओं और सेवाओं को 28 फीसदी की ऊंची स्लैब से बाहर रखा जाएगा। उन्होंने कहा था कि अब सिर्फ 1 फीसदी आइटम ही 28ः जीएसटी दायरे में रहेंगी। वहीं अन्घ्य आइटम 18ः या उससे कम जीएसटी दायरे में रहेंगी।