लखनऊ,। आम आदमी पार्टी ने एसिड अटैक पीड़ितों को न्याय दिलाने एवं उनकी मांगों के समर्थन में साथ देने का एलान किया है, एसिड अटैक पीड़ितों की मांगों को लेकर हुए विरोध प्रदर्शन में आप लखनऊ यूथ विंग के जिला अध्यक्ष तुषार श्रीवास्तव के नेतृत्व में तमाम कार्यकर्ता शामिल हुए,  प्रदेश प्रवक्ता महेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि राजधानी के गोमतीनगर इलाके में मशहूर कैफे “शेरोज हैगआउट” पिछले कई वर्षों से सुचारू रूप से चल रहा है, इस कैफे में वे लडकियां काम कर रही है जिनके ऊपर एसिड से हमला हुआ है, उनके चेहरे इस हमले झुलस चुके हैं, इस दर्द से पीड़ित महिलाओं को समाज की मुख्यधारा से जोड़ने एवं उनकी रोजी रोटी के लिए इस कैफे में उनको सम्मान पूर्वक काम दिया गया, वर्तमान में एसिड अटैक से पीड़ित लगभग दो दर्जन लडकियां कैफे में काम कर रही हैं, उन्होंने बताया कि कुछ दिन पूर्व महिला कल्याण निगम ने कैफे को मात्र तीन दिन में खाली कराने का नोटिस थमा दिया, महिला कल्याण निगम की मानवता से परे अचानक इस कार्यवाही से कैफे में काम कर रही एसिड अटैक पीडिता दुखी और अपने भविष्य के प्रति बेहद चिंतित है, यूथ विंग के जिला अध्यक्ष तुषार श्रीवास्तव ने बताया कि कैफे में कार्यरत एसिड अटैक पीड़ितों को पिछले कई महीनों से सैलरी भी नहीं दी गई है,

सैलरी न मिलने पर पीडिता भुखमरी की कगार पर आ गई हैं, उनको न्याय दिलाने के लिए यूथ विंग सडक पर संघर्ष करेगी और हर कीमत पर न्याय दिलाया जायेगा, आम आदमी पार्टी, ने योगी सरकार से मांग की है कि तत्काल कार्यवाही करते हुए महिला कल्याण निगम के अनुचित फैसले को रद्द करें और मानवता के हित को ध्यान में रखते हुए आजीवन कैफे को उसी स्थान पर बने रहने और सुचारू रूप से चलाने का आदेश पारित करें, साथ ही सभी पीड़ितों को पूर्व सैलरी दिलाने और सैलरी को नियमित कराया जाये।