स्टेप मॉम को लेकर अक्सर लोगों के दिलों में गलत धारणा बनी होती है। मगर जरूरी नहीं हर स्टेप मॉम एक जैसी हो। अब आप बॉलीवुड एक्ट्रैस करीना कपूर खान को देख लीजिए जिनकी सैफ के पहले बच्चों यानी सारा अली खान और इब्राहिम के साथ काफी अच्छी बॉन्डिंग देखने को मिलती है। करीना का अपने सौतेले बच्चों के साथ रिश्ता काफी प्यारा है, वहीं सारा और इब्राहिम भी करीना को खूब मानते हैं। अगर आप भी करीना की तरह अपने पति के पहले बच्चों के साथ अच्छा रिश्ता बनाए रखना चाहती है तो इन टिप्स को फॉलो कर सकती हैं।
1. शादी से पहले ही जान ले बच्चों की पसंद-नापसंद 
शादी से पहले ही अपने होने वाले पति से पूछें कि उनके बच्चों को किस तरह रहने की आदत है? उन्हें क्या अच्छा लगता हैं? किन बातों से भय लगता है? इन सब बातों से आपकी काफी हद तक उनकी पसंद नापसंद जान जाएंगी। 
2. बच्चों के साथ टाइम स्पेंड करें
शादी के बाद बच्चों के साथ समय बिताएं, उन की कमियों, समस्याओं, गुण व अवगुणों को जानने कोशिश करें। अगर आपको लगे कि उन्हें कुछ बताना चाहिए तो इस मामले में पीछे न रहे। 
3. बच्चों के दिलों में सॉफ्ट कॉर्नर बनाएं
अगर आॅफिस जाती हैं तो घर जाकर बच्चों के लिए कुछ समय निकालें। भले ही उनके साथ 15-20 के लिए बैठे लेकिन उन्हें अपना वक्त जरूर दें। इससे बच्चों के दिल में आपके लिए सॉफ्ट कॉर्नर बन जाएगा। 
4. बच्चों के साथ बैठकर बातें शेयर करें
अगर बच्चे स्कूल या कॉलेज जाते हैं तो रोज उनके आने पर पूछें कि आज उनका दिन कैसा रहा। उनकी मानसिक स्थिति और उन्हें सुकून पहुंचाने वाली बातें करें। 
5. दोस्तों की तरह करें उन्हें ट्रीट
बच्चों के साथ हमेशा दोस्ताना व्यवहार रखें, ताकि वह बिना किसी झिझक आपसे अपने मन की बात कह सकें। इतना ही नहीं आपको दिल से अपनी मां का दर्जा दें सकें।  
6. टीनएजर बच्चों को दें थोड़ा वक्त 
अगर पति के पहले बच्चे टीनएजर या बड़े हैं तो उनपर अपनी कोई बात न थोपें। बड़े उम्र बच्चे शायद आपको स्वीकार करने में थोड़ा वक्त ले लेकिन उन्हें मानसिक रूप से तैयार होने के लिए समय जरूर दें।
7. फैमिली बॉन्डिंग बनाएं रखें
फैमिली बॉन्डिंग को स्‍ट्रांग बनाएं रखने के लिए अपनी फीलिंग्‍स को बच्‍चों के सामने व्‍यक्‍त करें। दिखावे की जगह आप बच्चों से अपनी मन की बात शेयर करें।  
8. पहली मां की जगह लेने की कोशिश न करें 
बच्चों की सगी मां की जगह लेने की कोशिश न करें क्योंकि ऐसा करने से बच्चे कभी आपको अपना नहीं बना पाएंगे, बल्कि अपनी अलग पहचान बनाए यानी उन्हें अलग तरीके से ट्रीट करें।