सरसों का साग और मक्की की रोटी पंजाबियों की फेवरेट डिश है। सरसों के साग में देसी घी न सिर्फ बढिया स्वाद देता है बल्कि आपकी सेहत के लिए भी फायदेमंद होता है। बच्चे हो या बूढे़ सभी सरसों का साग बड़े चाव से खाते हैं। आज हम आपके लिए सरसों का साग बनाने का आसान तरीका लाएं हैं। 
सामग्री :
सरसों के पत्ते - 1 कि. ग्रा.( बारिक कटे हुए)
पालक -  ¼ कि. ग्रा.( बारिक कटे हुए )
सरसों का तेेेेल - 1 टेबलस्पून
जीरा - 1 टीस्पून
हरी मिर्च - 1½  टेबलस्पून (कटी हुई)
अदरक पेस्ट - 1 टेबलस्पून
लहसुन पेस्ट - 1 टेबलस्पून
प्याज - ½ कप (कटा हुआ)
हींग - ¼ टीस्पून
हल्दी - ½ टीस्पून
मक्की का आटा - 2 टेबलस्पून 
देसी घी - 1 टेबलस्पून
नमक - स्वादानुसार
विधि :
1. बर्तन में पानी उबलना रखकर इसमें सरसों और पालक के पत्ते डालकर 8-10 मिनट तेज आंच पर उबालें।
2. जब पत्ते अच्छी तरह उबल जाएं तो उतारकर छलनी की मदद से पानी अलग कर दें और साथ ही ठंडा पानी डालकर दोबारा छान लें।
3. 2-3 मिनट ठंडा करने के बाद इसे मिक्चर में ½  कप पानी डालकर ब्लेंड कर लें।
4. अब एक कड़ाही में तेल गर्म करके इसमें और जीरा डालें। जब जीरा भून जाए तो इसमें अदरक, लहसुन और हींग डालकर 30 सैकिंड के लिए धीमी आंच पर फराई करें।
5. हल्का सुनहरी होने पर इसमें प्याज और हरी मिर्च डालकर 1 मिनट के लिए फराई करें।
6. अब इसमें मक्की का आटा डालकर तब तक फराई करें जब तक कि मसाला तेल न छोड़ने लगे।
7. इस मिश्रण में उबले सरसों और पालक के पत्ते, हल्दी और नमक डालकर अच्छी तरह मिक्स करें।
8. धीमी आँच पर 2-3 मिनट के लिए पकाएं। गर्मागर्म साग को देसी घी डालकर मक्की की रोटी के साथ सर्व करें।