नई दिल्ली: बीजेपी को पटखनी देने के लिए पिछले काफी चुनावों से संयुक्त विपक्ष एकजुट होने की कोशिश कर रहा है। जहां एक तरफ दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने पूर्व पीएम डॉ मनमोहन सिंह की तारीफ की है तो आप नेता दिलीप पांडे ने साफ कहा है कि कांग्रेस के नेता पार्टी से संपर्क में है। यानी इतना तो तय है कि 2019 में बीजेपी को हराने के लिए आप और कांग्रेस में कुछ न कुछ तो खिचड़ी पक रही है। 
दरअसल आम आदमी पार्टी ने शुक्रवार को दावा किया कि लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस दिल्ली, पंजाब और हरियाणा में उसके साथ गठबंधन करने की कोशिश में है। आप के राष्ट्रीय प्रवक्ता दिलीप पांडे ने कहा कि कांग्रेस के कुछ वरिष्ठ नेता आम आदमी पार्टी के संपर्क में हैं। वे हरियाणा, दिल्ली और पंजाब में हमारा सहयोग चाहते हैं। आप नेता के मुताबिक, कांग्रेस पार्टी हमसे दिल्ली में एक सीट मांग रही है। हालांकि पांडे के दावे के बाद दिल्ली कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन ने केजरीवाल पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया। उन्होंने लिखा कि जब दिल्ली के लोग लगातार केजरीवाल की सरकार को नकार रहे हैं, तो फिर ऐसे में कांग्रेस उन्हें बचाने के लिए क्यों आगे आए? माकन यहीं पर नहीं रुके, उन्होंने गठबंधन की बात को खारिज करते हुए लिखा कि केजरीवाल, अन्ना हजारे और उनकी टीम की आरएसएस ने ही मदद की थी।  इसी के बलबूते मोदी सत्ता में काबिज हो पाए।