मुंबई। घरेलू स्तर पर अर्थव्यवस्था के बेहतर प्रदर्शन से जो अनुकूल माहौल बना था उसपर वैश्विक व्यापार में सामने आई नयी चिंताओं का असर भारी पड़ा जिससे घरेलू शेयर बाजार आज गिरावट के साथ बंद हुए। कारोबारियों का कहना है कि मई में अच्छी बिक्री के समाचार से वाहन कंपनियों के शेयर चमके लेकिन बिजली व बैंकिंग खंड के शेयरों में गिरावट से बाजारों में जो शुरूआती तेजी बनी थी वह गायब हो गई। अमेरिका ने यूरोपीय संघ, कनाडा तथा मैक्सिको सहित प्रमुख सहयोगी देशों से इस्पात व एल्युमिनियम आयात पर शुल्क लगा दिया। पहले इन देशों को शुल्क से मुक्त रखा गया था। बहरहाल, अमेरिका की नई पहल का असर वैश्विक बाजारों पर रहा। बीएसई का सेंसेक्स आज 95.12 अंक टूटकर 35,227.26 अंक पर जबकि निफ्टी 39.95 अंक टूटकर 10,696.20 अंक पर बंद हुआ।पिछले वित्त वर्ष की चौथी तिमाही (जनवरी- मार्च तिमाही) में जीडीपी वृद्धि दर 7.7% पर पिछली सात तिमाहियों में सबसे ऊंची रही। तीस शेयर आधारित सेंसेक्स सुबह 35,373.98 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 35,438.22 अंक तक चढ़ने के बाद यह अंत: 95.12 अंक की गिरावट दिखाता हुआ 35,227.26 अंक पर बंद हुआ।इसी तरह निफ्टी 39.95 अंक टूटकर 10,696.20 अंक पर बंद हुआ। यह कारोबार के दौरान 10,764.75 तथा 10,681.50 अंक के दायरे में रहा।साप्ताहिक आधार पर सेंसेक्स व निफ्टी दोनों ही लाभ में बंद हुए। 

 

साप्ताहिक तौर पर सेंसेक्स में 302.39 अंक जबकि निफ्टी में 91.05 अंक की मजबूती रही।जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के अनुंसधान प्रमुख विनोद नायर ने कहा कि वैश्विक आर्थिक मोर्चे पर चिंताओं के चलते मजबूत आर्थिक आंकड़ों के बावजूद घरेलू बाजार नकारात्मक रुख के साथ बंद हुए।बिकवाली दबाव के चलते टाटा स्टील 2.62 प्रतिशत व ओएनजीसी 2.48 प्रतिशत टूटा। इसी तरह महिंद्रा एंड महिंद्रा, एचयूएल, इंडसइंड बैंक, एनटीपीसी, पावरग्रिड, अदाणी पोर्ट, कोटक बैंक, एचडीएफसी बैंक, यस बैंक, एक्सिस बैंक, इन्फोसिस, एशियन पेंट्स, एसबीआई, टीसीएस, आईटीसी व विप्रो के शेयर गिरावट में बंद हुये। वहीं लिवाली समर्थन से बजाज आटो, मारुति सुजुकी, हीरो मोटोकार्प, टाटा मोटर्स, आईसीआईसीआई बैंक, भारती एयरटेल, आरआईएल, एचडीएफसी, सन फार्मा व एलएंडटी के शेयर लाभ के साथ बंद हुआ। आईसीआईसीआई बैंक में 1.37 प्रतिशत की तेजी रही। भारतीय एयरटेल 2.73 प्रतिशत, रिलायंस 0.86 प्रतिशत, एचडीएफसी लि 0.81 प्रतिशत, सनफार्मा 0.57 प्रतिशत और एलएण्डटी का शेयर मूल्य 0.27 प्रतिशत ऊंचा रहा।