अमृतसर: अकाली दल हरियाणा में भाजपा को एक बार फिर झटका देगा। शिरोमणि अकाली दल के प्रधान और पूर्व उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने ऐलान किया है कि शिरोमणि अकाली दल भविष्य में हरियाणा में आजाद तौर पर मतदान लड़ेगा।
जिक्रयोग्य है कि पंजाब में भाजपा अकाली दल के लिए घर -घर जाकर वोट मांगती रही है और सूबे में अकाली -भाजपा की जब भी सरकार बनी है उस में भाजपा के वोट बैंक का अहम योगदान रहा है परन्तु भविष्य में हरियाणा में होने जा रहे चुनाव में अब अकाली दल ही भाजपा के वोट बैंक में सेंध लगाने जा रहा है। पंजाब में शिरोमणि अकाली दल का भाजपा के साथ गठबंधन है परन्तु हरियाणा में चौटाला परिवार के साथ सांझ होने के कारण भाजपा के साथ दूरी बनी हुई है।
पिछली बार भी हरियाणा चुनाव में अकाली दल ने भाजपा से अलग इनैलो के साथ मिल कर चुनाव लड़ा था परन्तु बावजूद इसके भाजपा सत्ता हासिल करने में कामयाब रही। हालांकि हरियाणा में कई विधानसभा क्षेत्र ऐसे हैं, जहां सिख वोटों का बोलबाला है और यह वोट नतीजे में काफी अहम भूमिका निभाते हैं।
सुखबीर बादल हरियाणा के यमुनानगर में किला लोहगढ़ में शिरोमणि समिति की तरफ से कराए गए समारोह में शामिल होने के लिए पहुंचे थे, जहां उन्होंने भविष्य में हरियाणा विधानसभा चुनाव आजाद तौर पर लड़ने का ऐलान किया। बादल ने कहा कि कुछ लोग सिख कौम को तोड़ने में जुटे हैं, जिनसे सचेत रहना समय की बड़ी जरूरत है। उन्होंने कहा कि शिरोमणि अकाली दल और शिरोमणि समिति की तरफ से हमेशा सिख मसलों की पैरवी के लिए रोल अदा किया जाता रहा है और जब भी देश -विदेश में सिखों को किसी किस्म की मुश्किल रड़े तो इन संस्थायों ने आगे आकर लड़ाई लड़ी। उन्होंने इस मौके हरियाणा के सिखों को लामबंद होने की अपील की है।